अखिलेश डरे हुए हैं, कोई डूबती नांव पर चढ़ता है क्या: मोदी; पढ़ें स्पीच की 8 बातें

गाजियाबाद.नरेंद्र मोदी ने बुधवार को गाजियाबाद में चुनावी रैली की। इस दौरान कहा, “ये चुनाव सिर्फ विधायक चुनने के लिए नहीं है। ये उत्तर प्रदेश का भविष्य बदलने के लिए है।” पीएम ने इशारों में सपा-कांग्रेस अलायंस पर तंज कसा। कहा, “अखिलेश जी इतने डरे हुए हैं कि जो मिले, उसे गले लगा ले रहे हैं। कोई डूबती नाव पर कदम रखता है क्या?” मोदी ने यह भी कहा, “मुझे न तो उनका समझवाद समझ आता है और न समाजवाद।” 8 प्वाइंट्स में समझें मोदी के स्पीच की अहम बातें…
– मोदी ने कहा, “भारत सरकार पैसे देने को तैयार है, लेकिन स्वार्थ की राजनीति के कारण गरीब तक योजना का लाभ नहीं पहुंचने दिया जा रहा है।
मोदी की स्पीच के 8 अहमप्वाइंट्स…
1. आम लोगों को नहीं मिल रहा मकान, बिल्डर लॉबी और नेताओं में मिलीभगत
– “सामान्य आदमी जिंदगीभर की कमाई से अपना छोटा सा घर बनाना चाहता है, लेकिन बिल्डर लॉबी नेताओं की शह पर मध्यमवर्ग को लूट लेते हैं, उन्हें मकान नहीं देते। जैसा नक्शा दिखाया, वैसा मकान नहीं देते हैं। ये पीड़ा कोई आज की नहीं है, तीन-चार दशक से ये समस्या है।”
– “रियल एस्टेट कानून हमने बनाया है। अब किसी भी सामान्य नागरिक को धोखाधड़ी करने वाले बिल्डर लूट नहीं सकते हैं। तय समय पर मकान नहीं देगा तो उसकी जिंदगी जेल में बीतेगी।”
2. नौकरी के लिए इंटरव्यू खत्म करनेकी बातयूपी ने नहीं मानी
– तृतीय श्रेणी और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के लिए इंटरव्यू खत्म करने की चर्चा करते हुए मोदी ने कहा, “मुझे ये नहीं समझ में आता था कि इंटरव्यू देने जा रहे युवाओं को 30 सेकेंड में अफसर कैसे परखते थे। नाम लिखा, गांव पूछा, आगे बढ़ा दिया। ऐसा कौन सा विज्ञान है, जिससे ये पता चले कि कौन नौकरी के काबिल है।
– “ये भ्रष्टाचार के लिए होता था। एक लाख लाओ, दो लाख लाओ, चलता था ना?”
– “हमने आकर इंटरव्यू खत्म करने का फैसला लिया, लिखित परीक्षा में जो पास होंगे, उनका एग्जाम कम्प्यूटर लेगा, कम्प्यूटर में जिसे ज्यादा अंक मिलेगा उसे नौकरी मिलेगी और घर पर चिट्ठी चली जाएगी।”
– “हमने राज्य सरकारों से भी यही कहा। बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि यूपी सरकार ने मेरी बात नहीं मानी। कागज फाइल में बंदकर के रख दिया।”
– “क्योंकि अपने-पराए का खेल खत्म हो जाएगा, नोटों के बंडल नहीं आएंगे। यूपी हिंदुस्तान का उत्तम प्रदेश बन सकता है, लेकिन सही सरकार चुनी जाए तब।”
3. मेरी लड़ाई बड़े व्यापारियों के खिलाफ
– “मैं व्यापारियों को एक और विश्वास दिलाना चाहता हूं कि कालेधन के खिलाफ मेरी लड़ाई बड़े लोगों के खिलाफ है। गरीब व्यापारी के खिलाफ मेरी सरकार का कोई एजेंडा नहीं है, लेकिन जो बड़े लोग बैठे हैं खाकर देश का पैसा, उनका तो पैसा निकलवाकर ही रहूंगा।”
– “आप मुझे बताइए कि पूरे यूपी में जो छोटे व्यापारी हैं, उन्हें किसी ना किसी केस में फंसाया जाता है कि नहीं। इनका क्या गुनाह है? आपकी सुरक्षा हमारी सरकार बनते ही सुनिश्चित होगी। हमारी सरकार में हर आदमी की तरह आपकी सुरक्षा का हक भी आपको मिलेगा।”
4. यूपी से भ्रष्टाचार हटेगा तो ही लड़ाई पूरी होगी
– मोदी ने कहा- “जब मैंने सरकार संभाली तो भ्रष्टाचार ने दीमक की तरह सरकार को बर्बाद कर दिया था। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़नी चाहिए। अगर मैं दिल्ली में बैठकर भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लडू़ं और यूपी में भ्रष्टाचार होगा तो क्या लड़ाई पूरी होगी।”
– “लड़ाई पूरी तब होगी, जब यूपी से भी भ्रष्टाचार हटे। इस लड़ाई में मुझे यूपी का साथ चाहिए, यूपी का आशीर्वाद चाहिए।”
5. जातिवाद के चलते काबिल को नौकरी नहीं, भर्ती घोटाले की कराएंगे जांच
– “यूपी में अच्छे अंक लाने वाले नौजवानों को नौकरी मिल जाए इसकी कोई गारंटी नहीं है। सरकार, शासन में जातिवाद के कारण योग्य उम्मीदवारों को नौकरी नहीं मिल रही है।सरकार ने नौजवानों का हक छीन लिया है।”
– “यूपी में बीजेपी की सरकार बनने के बाद जिसका हक बनेगा उनको नौकरी दी जाएगी।”
– “मैं यूपी के नौजवानों को एक विश्वास देना चाहता हूं। बीजेपी का घोषणा पत्र संकल्प पत्र होता है। हमने कहा है कि नौकरी की भर्तियों में जो घोटाले हुए हैं, हकदार के साथ जो अन्याय हुआ है, उसकी जांच की जाएगी। जिसका हक बनता है, उसे नौकरी मिलेगी।”
6. पांच साल के कामकाज हिसाब दें
– “यहां जितने भी लोग चुनाव प्रचार कर रहे हैं, उन लोगों को अपने चुनाव प्रचार में अपने पांच साल के कामकाज का हिसाब देना चाहिए। सपा को जवाब देना चाहिए। उत्तर प्रदेश में भी उत्तर नहीं देते हैं तो यूपी को उत्तम कैसे बनाएंगे?”
-“मोदी को जो भी कहना है कह लो। 10 मिनट मुझे गाली देनी है तो दे लो, लेकिन 5 मिनट तो अपने काम का हिसाब-किताब दे दो।”
7. यूपी में डर का माहौल
– मोदी ने कहा, “यूपी में आर्म्स एक्ट के तहत ही 40 हजार शिकायतें दर्ज हैं। हर दिन रेप, मर्डर होते हैं, लेकिन इनको न तो कानून-व्यवस्था में सुधार के लिए चिंता है और ना ही इन्हें ये जिम्मेदारी लगती है।”
– “आज यूपी में सूरज ढलने के बाद कोई बहन-बेटी अकेली रास्ते पर निकल सकती है क्या? आपने अपने परिवार की महिलाओं को नेता बनाया है, इसके बाद भी क्या कारण है कि यूपी की मां-बेटी सलामत नहीं है। बच्चियां स्कूल तक जाने से डरती हैं।”
– “पार्टी के नेताओं को इन्होंने इलाके बांट दिए है कि जो मन आए करते रहो, कोई तुम्हें कुछ कहेगा नहीं।”
– “आपकी सरकार ने गुंडों को आश्रय दिया और उन्हें पाला, इसके चलते यूपी में ये माहौल बना है।”
8. सपा में दंगल पर भी कसा तंज
– मोदी बोले, “अखिलेश जब चुनकर आए तो हमें लगा कि नौजवान है, पढ़ा-लिखा है। ये जरूर यूपी की भलाई के लिए कुछ काम करेगा। आपने पांच साल के अंदर यूपी का विनाश करके रख दिया।
– “श्रीमान अखिलेश जी पिताजी, चाचा, बहुओं, भाइयों और भतीजों का क्या-क्या किया, ये तो यूपी की जनता जानती है। वक्त की मांग है कि पिछले पांच साल में आपने क्या काम किया, लोगों को उसका हिसाब दीजिए।”
News Source – Danik Bhaskar

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR