इस तारीख को पैदा होने वाले बनते हैं अरबपति, काम करता है X फैक्टर

न्यूमरोलॉजी (अंकज्‍योतिष) में कुछ तारीख पर पैदा होने वाले लोगों को सफल बिजनेसमैन माना जाता है। न्यूमरोलॉजी के मुताबिक, 1 अंक के कारोबारियों में बिजनेस को अपने दम पर आगे ले जाने की काबिलियत होती है। इन्हें कारोबार के लिहाज से अच्छा लीडर माना जाता है। आइए जानते हैं किस नंबर के कारोबारी सफल कारोबारी बनते हैं।

नंबर-1

कौन होते हैं नंबर– 1

जिनके जन्म की तारीख के अंकों का टोटल 1 होता है, न्यूमरोलॉजी के मुताबिक वह 1 नंबर वाले माने जाते हैं। यानी, जिन लोगों की बर्थ डेट 1, 10, 19 और 28 होती है, वह 1 नंबर कहलाते हैं। न्यूमरोलॉजिस्ट संजय बी. जुमानी ने moneybhaskar.com को बताया कि 1 नंबर का कैरेक्टर स्ट्रॉन्ग होता है। ये जन्मजात लीडर होते हैं। इनकी मैनेजमेंट और लीडरशीप स्किल अच्छी मानी जाती है। ये अपनी लाइफ में सफलता के नए मुकाम बनाते हैं। ये अच्छे सबॉर्डिनेट नहीं माने जाते क्योंकि इन्हें दूसरों से ऑर्डर लेना पसंद नहीं होता। उनके लक्ष्य हमेशा बड़े होते हैं।

ये हैं नंबर1वाले कारोबारी

न्यूमरोलॉजी (अंकज्‍योतिष) में नंबर- 1 वाले लोगों की खासियत यह होती है कि वे अपनी लीडरशिप और मैनेजमेंट क्वालिटी के लिए देश-दुनिया में जाने जाते हैं। ये हैं नंबर 1 वाले कारोबारियों की लिस्‍ट में मुकेश अंबानी और नीता अंबानी, बिल गेट्स, रतन टाटा, धीरूभाई अंबानी आदि शामिल हैं।

मुकेश अंबानी और नीता अंबानी

मुकेश अंबानी का जन्मदिन 19 अप्रैल हैं। इस‍ लिहाज से न्‍यूमरोलॉजी में उनका अंक 1 है। नीता अंबानी का जन्म 1 नवंबर 1963 को हुआ था। अपनी बर्थडेट के हिसाब से वह भी 1 नंबर है। नीता अंबानी ने भी कारोबार में हाथ बंटाया और वह उसमें सफल रही हैं। भारत के सबसे रईस व्यक्ति मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता इंडियन बिजनेस वर्ल्ड के सबसे अमीर कपल हैं।

धीरुभाई अंबानी और रतन टाटा दोनों नंबर 1 हैं।

ये हैं नंबर1वाले कारोबारी

रतन टाटा

रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर 1937 को हुआ था और वह भी अपनी बर्थडेट के हिसाब से नंबर वन है। रतन टाटा ने अपनी लीडरशीप क्वालिटी के जरिए ‘टाटा ग्रुप’ को ग्लोबल ब्रांड बनाया है। उन्होंने टेटली टी, जैगुआर जैसे बड़े विदेशी ब्रांड खरीदे।

बिल गेट्स

माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर बिल गेट्स का जन्म 28 अक्टूबर 1955 को हुई है। अपनी लीडरशीप क्वालिटी के कारण ही वह दुनिया के सबसे अमीर शख्‍स हैं।

धीरूभाई अंबानी

धीरूभाई अंबानी का जन्म 28 दिसंबर 1932 को हुआ था। न्‍यूमरोलॉजी में उनका भी अंक एक है। धीरूभाई अंबानी कारोबारी जगत में अपनी लीडरशीप और दूरदर्शिता के लिए जाने जाते थे। वह एक कपड़ा व्यापारी से देश के बड़े बिजनेस टायकून बने थे। उन्होंने साल 1958 में 15,000 रुपए के इन्वेस्टमेंट के साथ रिलायंस कमर्शियल कॉर्पोरेशन की शुरुआत की थी।

कुमार मंगलम बिड़ला और सुनील भारती मित्तल दोनो नंबर 5 हैं।

नंबर5

कौन होते हैं नंबर5

जिनके जन्म की तारीख के अंकों का टोटल 5 होता है वह 5 नंबर कहलाते हैं। इसमें 5, 14 और 23 तारीख शामिल है। नंबर 5 वाले लोगों का एनर्जी लेवल हाई रहता है। उनकी अपनी सोच होती है और ये रिस्क लेने से नहीं घबराते। ये एक काम की जगह बहुत सारे काम एक साथ करने में भरोसा रखते हैं। इस लिस्ट में कुमार मंगलम बिड़ला, सुनील भारती मित्तल, किरन मजुमदार शॉ, फेसबुक के हेड मार्क जुकरबर्ग और सज्जन जिंदल जैसे कारोबारी शामिल हैं।

ये हैं नंबर5कारोबारी

कुमार मंगलम बिड़ला

आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिरला का जन्मदिन 14 जून को होता है और वह न्‍यूमरोलॉजी के हिसाब से 5 नबंर हैं।

सुनील भारती मित्तल

भारती ग्रुप के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल का जन्मदिन 23 अक्टूबर को होता है। वह न्‍यूमरोलॉजी के हिसाब से 5 नबंर हैं। उनकी कंपनी टेलिकॉम, रिटेल जैसै कई सेक्टर्स में हैं।

किरन मजूमदार शॉ

बायोकॉन की चेयरमैन किरन मजूमदार शॉ 23 मार्च को होता है। वह न्‍यूमरोलॉजी के हिसाब से 5 नबंर हैं।

गौतम अडानी और अजीम प्रेजी दोनो नंबर 6 हैं।

नंबर6

कौन होते हैं नंबर6

जिनके जन्म की तारीख के अंकों का टोटल 6 होता है वह 6 नंबर कहलाते हैं। इसमें 6, 15 और 24 तारीख शामिल है। नंबर 6 वाले लोगों का एनर्जी लेवल हाई रहता है। उनकी अपनी सोच होती है और ये रिस्क लेने से नहीं घबराते। ये एक काम की जगह बहुत सारे काम एक साथ करने में भरोसा रखते हैं। इस लिस्ट में गौतम अडानी, अजीम प्रेमजी, डीएलएफ ग्रुप के चेयमैन केपी सिंह शामिल हैं।

ये हैं नंबर6कारोबारी

गौतम अडानी

अडानी ग्रुप चेयरमैन गौतम अडानी का जन्म 24 जून को हुआ। वह न्‍यूमरोलॉजी के हिसाब से 6 नबंर हैं। अडानी ग्रुप इलेक्ट्रिसिटी, ऑयल बनाने जैसे कई कारोबार में हैं।

अजीम प्रेमजी

विप्रो ग्रुप के चेयरमैन अजीम प्रेमजी का जन्मदिन 24 जुलाई को आता है। वह न्‍यूमरोलॉजी के हिसाब से 6 नबंर हैं। उनकी कंपनी देश की बड़ी आईटी कंपनियों में गिनी जाती है।

अनिल अंबानी और साइरस मिस्त्री दोनो का नंबर 4 हैं।

ये नंबर बिजनेसमैन होते हैं कम सफल

नंबर –4

न्यूमरोलॉजिस्ट संजय बी. जुमानी ने बताया कि न्यूमरोलॉजी (अंकज्‍योतिष) में नंबर- 4 को अच्छा सबॉर्डिनेट माना जाता है। वह कारोबार में बहुत अधिक सफल नहीं रहते। इसमें अनिल अंबानी और साइरस मिस्त्री आते हैं। अनिल अंबानी का जन्म 4 जून 1959 को हुआ है और न्यूमरोलॉजी के हिसाब से वह 4 नंबर है। वह अपने बिजनेस में बड़े भाई मुकेश अंबानी जितने सफल नहीं हो पाएं हैं। साइरस मिस्त्री का जन्मदिन 4 जुलाई को होता है। उन्हें भी टाटा ग्रुप की चेयमैनशीप से निकाला गया था। ज्यादातर 4 नंबर कारोबार में सफल नहीं होते लेकिन वह अच्छे पॉलिटिशन माने जाते हैं। अनिल अंबानी और साइरस मिस्त्री दोनो 4 नंबर है और ये कॉरपोरेट वर्ल्ड में ज्यादा सफल नहीं हो पाएं हैं।

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR

Leave a Comment