ATM से आप भी निकालते हैं पैसा तो ये खबर जरूर पढ़ें, होने वाला है ये बड़ा बदलाव

 जिस एटीएम का आप रोजाना इस्तेमाल करते हैं, अब वे स्मार्ट होने वाले हैं। बैंक सालों पुराने ऑटोमैटेड टेलर मशीन (ATM) को न्यू डिजिटल मशीन से रिप्लेस कर रहा है। इसमें एक फिक्स्ड मैन्यू का ऑप्शन होगा, जो 15 इंच के टैबलेट जैसी मल्टीटच स्क्रीन वाला होगा। इसके बाद एटीएम से पैसा निकालने के अलावा कोई भी कई काम किए जा सकेंगे।

यह स्मार्ट एटीएम आधार बेस्ड बायोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन के जरिए काम करेंगे। नेट बैंकिंग से भी ये मशीनें जुड़ी होंगी। सालों पहले लगी मशीनें अभी तक अपग्रेड नहीं हो पाई हैं। 6 साल पहले ही एटीएम नेटवर्क 1 लाख का आकंड़ा पार कर चुका था। अब बैंक इनको न्यू मशीन में अपग्रेड करने के लिए तैयार हो चुके हैं।

अपग्रेड करने के बजाए बदल रहे मशीन
एटीएम बनाने वाली कंपनी एनसीआर ने बताया कि नई मशीनों की डिमांड लगातार बढ़ रही है। बैंक विंडोज एक्सपी पर चलने वाली पुरानी मशीनों को अपग्रेड करने के बजाए उन्हें बदल रहे हैं। टैबलेट स्क्रीन वाली नई मशीनें 3 लाख रुपए में अवेलेबल हो रही हैं। पुरानी मशीनों की कीमत इससे आधी थी।

चेन्नई है एटीएम मशीनों का हब

 इंडिया में चेन्नई में एटीएम की बड़े स्तर पर मैन्यूफैक्चरिंग की जाती है। वहीं रिसर्च और डेवलपमेंट का काम हैदराबाद में होता है। एटीएम से प्रतिदिन कैश विथड्रॉअल करने में भी बढ़ोत्तरी हुई है। अक्टूबर 2016 में यह आंकड़ा 4.1 लाख का था, वहीं दिसंबर 2017 में यह बढ़कर 4.2 लाख हो गया। एटीएम मैन्यूफैक्चरर एनसीआर ने बैंकों को 24 हजार नई मशीन सेल की हैं।

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR