घर में पूजा करते हैं तो 3 गलतियां करने से बचें, वरना मनोकामनाएं नहीं हो पाती है पूरी

पूजा-पाठ करने से देवी-देवता प्रसन्न होते हैं, मन शांत होता है और परेशानियों से मुक्ति मिलती है। शास्त्रों में पूजन कर्म से जुड़े कई नियम भी बताए गए हैं। इन नियमों का पालन किया जाए तो मनोकामनाएं जल्दी पूरी हो सकती हैं। यहां जानिए उज्जैन के इंद्रेश्वर महादेव मंदिर के पूजारी पं. सुनील नागर के अनुसार पूजा-पाठ से जुड़ी खास बातें, जिनका ध्यान रखने पर भगवान जल्दी प्रसन्न हो सकते हैं…

1. पूजा में आरती एक दीपक या पांच दीपकों के साथ करनी चाहिए। दीपक के साथ ही कर्पूर भी जरूर जलाएं।

2. जब भी आरती करें, उसमें घंटी और शंख अवश्य बजाएं। इनसे वातावरण शुद्ध होता है और घर की नकारात्मक ऊर्जा खत्म होती है।

3. आरती के पांच अंग माने जाते हैं। पहला दीपक, दूसरा शंख में भरा हुआ शुद्ध जल, तीसरा भगवान के लिए वस्त्र, चौथा आम या पीपल के पत्ते और पांचवां है भगवान के सामने दंडवत प्रणाम करना। जब भी पूजा करें ये 5 चीजें जरूर ध्यान रखें।

4. पूजा के बाद शंख में भरा जल परिवार के सदस्यों पर और पूरे घर में छिड़कना चाहिए।

5. भगवान को कभी भी बासी फूल न चढ़ाएं।

6. अगर आप मंत्रों का जाप नहीं कर सकते हैं तो भगवान के नामों का जाप करना चाहिए।

7. पूजा में सभी पवित्र तीर्थों का और पवित्र नदियों का भी ध्यान करना चाहिए।

8. जब भी पूजा करें, सभी नौ ग्रहों के नामों का भी जाप करें।

9. भगवान को प्रसन्न करने के लिए घर में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। जहां गंदगी रहती है, वहां देवी-देवता वास नहीं करते हैं।

10. अगर आपके घर में देवी-देवताओं की मूर्तियां हैं तो ध्यान रखें रोज सुबह भगवान को भोग लगाएं बिना भोजन नहीं करना चाहिए।

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR