प्लास्टिक के डिब्बे हों या बाथरूम की बाल्टी, यदि टूट गए हैं तब ऐसे करें रिपेयर

घर में यूज होने वाली प्लास्टिक की चीजें एक समय के बाद टूट या चटक जाती हैं। ऐसे में उन्हें ने चाहते हुए भी फेंकना पड़ता है। बाथरूम में यूज होने वाली प्लास्टिक की बाल्टी अक्सर चटक जाती हैं। बाल्टी यदि चटक जाए तब उसका यूज नहीं किया जा सकता। हालांकि, प्लास्टिक की आइटम को घर पर ही आसानी से रिपेयर भी किया जा सकता है। टूटी प्लास्टिक को रिपेयर करने की कई प्रोसेस हैं।

1. सोल्डरिंग मशीन का यूज

सोल्डरिंग मशीन का यूज यूं तो इलेक्ट्रॉनिक आइटम को रिपेयर करने के लिए किया जाता है, लेकिन इससे प्लास्टिक को भी सोल्ड कर सकते हैं। सोल्डरिंग मशीन को गर्म करके प्लास्टिक पर उस जगह लगाया जाता है जहां से वो टूटी हुई है। गर्म होकर प्लास्टिक पिघलने लगती है और उसे जोड़ दिया जाता है।

2. यूजलेस प्लास्टिक का यूज

यूजलेस प्लास्टिक जैसे टूथब्रश, प्लास्टिक पेन या फिर किसी अन्य को पिघलाकर भी टूटी प्लास्टिक को जोड़ सकते हैं। पिघली हुई प्लास्टिक को दरार में डालकर चिपका दिया जाता है। जैसे ही प्लास्टिक ठंडी होती है ये रिपेयर हो जाती है।

3. हॉट एयर ब्लोअर का यूज

हॉट एयर ब्लोअर का यूज मोबाइल रिपेयरिंग में किया जाता है। इसकी मदद से भी टूटी प्लास्टिक को रिपेयर किया जा सकता है। इसके लिए किसी वायर पर ब्लोअर से हॉट एयर फेंकी जाती है, जिससे ये पिघलने लगता है और उसे टूटी प्लास्टिक पर चिपका दिया जाता है।

4. फेवीक्विक का यूज

प्लास्टिक को फेवीक्विक या इसी तरह के दूसरे लिक्विड की मदद से भी जोड़ सकते हैं। हालांकि, इससे सभी तरह की प्लास्टिक परमानेंट रिपेयर नहीं होती। जैसे यदि कोई प्लास्टिक की बाल्टी चटकी है, तब उसे इससे जोड़ा तो जा सकता है, लेकिन जैसे ही पानी के साथ उसका यूज किया जाएगा, वो वजन से फिर से चटक सकती है।

5. M-Seal का यूज

प्लास्टिक को एम-सील की मदद से भी जोड़ सकते हैं। एम-सील की ग्रिप बेहतर रहे इसके लिए इसे टूटी हुई प्लास्टिक के दोनों तरफ लगाना चाहिए।

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR