शुरू करें पेपर कप बनाने का बिजनेस, 60 हजार रुपए महीने कमाई

बढ़ते पॉल्‍यूशन  और सेहत से जुड़ी चिंताओं के चलते छोटे से लेकर बड़े शहर में कागज से बने कप की डिमांड तेजी के साथ बढ़ रही है। चाय पीने से लेकर लस्‍सी और कोल ड्रिंक जैसी चीजों के लिए इनका तेजी के साथ इस्‍तेमाल हो रहा है। तेज ग्रोथ के चलते माना जा रहा है कि यह बिजनेस आने वाले वक्‍त में और तेजी के साथ बढ़ेगा। ऐसे में अगर बिजनेस शुरू करते हैं तो यह आपके लिए कहीं से भी घाटे का सौदा साबित नहीं होगा।  पेपर कप मेकिंग बिजनेस के जरिए आप महीने में 60 हजार रुपए तक की कमाई कर सकते हैं। इस जानते हैं इस बिजनेस से जुड़े सभी पहलुओं के बारे में….

पेपर कप मेकिंग बिजनेस क्‍या है ? 

खास तरीके के कागज से ग्‍लास और कप बनाने का बिजनेस  पेपर कप मेकिंग बिजनेस कहलाता है। इसके तहत अलग- अलग साइज के ग्‍लास तैयार किए जाते हैं। इन ग्‍लास का यूज आम तौर पर चाय की दुकानों से लेकर जूस और ड्रिंक की दुकानों पर होता है। इसके साथ ही बड़े पार्टी फंक्‍शन और सेलिब्रेशन के लिए ये ग्‍लास बेहद मुफीद माने जाते हैं। कागज से बनने के कारण ये आसानी से डिस्‍पोज भी हो जाते हैं। इसके चलते पर्यावरण को किसी तरह का नुकसान नहीं होता है।

पेपर कप बिजनेस शुरू करने लिए कितनी लागत की जरूरत है?

अगर आप इस बिजनेस को छोटे रूप में शुरू करना चाहते हैं, तो एक से डेढ़ लाख में शुरू हो जाता है। इसके तहत आप 90 से लेकर 200 एमएल तक की ग्‍लास और कप का प्रोडक्‍शन कर सकते हैं।  इस काम में छोटी-बड़ी तथा ऑटोमैटिक-सेमी ऑटोमैटिक कई तरह की मशीनों का यूज अपनी लागत के हिसाब से कर सकते हैं। छोटी मशीनें जहां एक ही साइज के कप तैयार करती हैं, वहीं बड़ी मशीन हर आकार के ग्‍लास/कप तैयार करती है। 1 से 2 लाख रुपए में आपको सिर्फ एक साइज के कप/ग्‍लास तैयार करने वाली मशीन मिल जाएगी, जिसकी मदद से आप प्रोडक्‍शन कर सकते हैं। हालांकि आप हर साइज के कप और ग्‍लास को प्रोडक्‍शन करना चाहते हैं तो आपको 10 से 12 लाख रुपए की पूंजी की जरूरत पड़ती है।

पेपर कप बिजनेस शुरू करने के लिए जरूरी चीजें

मशीनरी   

1-  पेपर कप फ्रेमिंग मशीन- 5 लाख रुपए से शुरू
2 – ऑफिस इक्विपमेंट: 50 हजार

रॉ मैटेरियल 

1- पेपर रील :  90 रुपए Kg
2- बॉटम रील: 78 रुपए Kg

पेपर बिजनेस से हर महीने कितने का खर्च 

आइटम  

 क्‍वांटिटी

 अमाउंट  

PE कोटेड पेपर रील

  2836 KG

 260,912 ( Rs 90/ Kg)

PE कोटेड बॉटम रील

1134 Kg

88,452 (Rs 78/ Kg)

लेबर (वेतन)

2

15000

इलेक्ट्रिसिटी

1560 (Rs3/ Unit)

4600

बिल्डिंग रेंट

1

3000

फोन ऑफिस मेंटिनेंस

1

2000

ट्रांसपोर्टेशन

सप्‍लाई/परचेज

14000

पैकिंग

 21000

टोटल खर्च 

408964

आपकी कमाई 

आम तौर पर फक्‍ट्री एक मिनट में करीब 50 कप तैयार करती है। ऊपर दी गई टेबल के हिसाब अगर आपकी फैक्‍ट्री में 26 कार्यदिवस (4 दिन रविवार का अवकाश) के हिसाब से रोजाना 2 शिफ्ट में काम होता है तो महीने में यहां 15,60,000 कप तैयार होंगे। अगर आप इसे 30 पैसे प्रति कम के हिसाब से बेचते हैं तो आपको करीब 4,68,000 की इनकम होगी। अगर इसमें से 408,964 रुपए की लागत घटा दी जाए तो करीब 59, 036 रुपए यानी राउंड फिगर में करीब 60 हजार रुपए की कमाई होगी।

 2836 KG पेपर की मदद से 1 महीने का प्रोडक्‍शन 

15,60,000 कप

सेलिंग प्राइस 

30 पैसा /कप

सेलिंग इनकम (15,60,00*30 पैसा​) 

4,68,000 रुपए

टोटल खर्च

408964

 नेट प्रॉफिट

 Rs. 59, 036

कैसे कराएं रजिस्‍ट्रेशन ? 

अगर आप छोटे लेवल पर पेपर कप बनाकर खुद ही मार्केट में बेचना चाहते हैं तो आप घर पर ही छोटी मशीन लगाकर शुरू कर सकते हैं। हालांकि अगर आपको बड़े लेवल पर कारोबार शुरू करना है तो आपको अपने बिजनेस को एमएसएमई के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन या उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। साथ ही ट्रेड लाइसेंस, फर्म का चालू खाता, पैन कार्ड आदि की भी जरूरत पड़ेगी। उद्योग आधार रजिस्टेशन होने पर आप पेपर कम मैन्युफैक्चरिंग उद्योग के लिए मुद्रा लोन भी हासिल कर सकते हैं।

कहां मिलती है मशीन ? 

कागज के कप बनाने की मशीन दिल्ली, हैदराबाद, आगरा एवं अहमदाबाद समेत कई शहरों में मिलती है। इस तरह की मशीनें तैयार करने काम इंजीनियरिंग वर्क करने वाली कंपनियां करती हैं। इसके अलावा आप इंडिया मार्ट और अलीबाबा की वेबसाइट पर जानकार भी सीधा इन मशीनों के सेलर्स से संपर्क कर सकते हैं। आप यहां से पेपर कप बनाने वाले जरूरी रॉ मैटेरियल भी हासिल कर सकते हैं।

सरकारी सपोर्ट पेपर कप बिजनेस के लिए मिल सकता है?

आप मुद्रा योजना के तहत इस कारोबार के लिए बैंक से लोन हासिल कर सकते हैं। मुद्रा लोन के तहत सरकार ब्‍याज पर सब्सिडी देती है।

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR