भारत में 2022 तक 82.9 करोड़ होगी स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या, सबसे ज्यादा इंटरनेट भी भारतीय ही करेंगे इस्तेमाल

एवरेज ग्लोबल इंटरनेट स्पीड 2017 तक 8.7Mbps थी, जो 2022 तक बढ़कर 28.5Mbps हो जाएगी वाई-फाई कनेक्शन की ग्लोबल स्पीड भी दोगुनी होकर 54.2Mbps तक होने का अनुमान

भारत में 2022 तक स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या 82.9 करोड़ तक पहुंचने का अनुमान है जो 2017 तक करीब 40 करोड़ है। इस बात की जानकारी सिस्को ने अपनी ‘विजुअल नेटवर्किंग इंडेक्स’ रिपोर्ट मे दी है। सिस्को की रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 में स्मार्टफोन पर इंटरनेट ट्रैफिक 17% है जो 2022 तक बढ़कर 44% पहुंचने की उम्मीद है। वहीं कम्प्यूटर पर इंटरनेट ट्रैफिक कम होकर सिर्फ 19% पर आ जाएगा।

सबसे ज्यादा इंटरनेट यूजर्स भारत में होंगे : 

सिस्को की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया के सबसे ज्यादा स्मार्टफोन यूजर्स भारत में होंगे। 2017 तक भारत में 35.7 करोड़ लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं जो पूरी दुनिया की सिर्फ 27% आबादी है। लेकिन 2022 तक भारत में इंटरनेट यूजर्स की संख्या 84 करोड़ से ज्यादा होगी, जिसका मतलब हुआ कि दुनियाभर के 60% इंटरनेट यूजर्स भारतीय ही होंगे।

मोबाइल इंटरनेट की स्पीड भी बढ़ेगी : 

रिपोर्ट के मुताबिक, दुनियाभर में अगले 4 साल में मोबाइल इंटरनेट की स्पीड दोगुनी होने का अनुमान है।  अभी दुनिया में एवरेज इंटरनेट स्पीड 13.2Mbps है जो 2022 तक बढ़कर 285Mbps हो जाएगी। सबसे ज्यादा इंटरनेट स्पीड वेस्टर्न यूरोप में बढ़ेगी और वहां 2022 तक 50.5Mbps पहुंचने का अनुमान है।

ब्रॉडबैंड और वाई-फाई स्पीड भी दोगुनी होगी : 

वहीं ग्लोबल फिक्स्ड ब्रॉडबैंड की स्पीड भी 39.4Mbps (2017) से बढ़कर 2022 तक 75.4Mbps हो जाएगी। जबकि वाई-फाई कनेक्शन की भी ग्लोबल स्पीड 24.4Mbps (2017) से बढ़कर 54Mbps तक पहुंचने का अनुमान है।

रीजन

ब्रॉडबैंड

वाई-फाई

2017

2022

2017

2022

ग्लोबल

39.0

75.4

24.4

54.2

एशिया पैसिफिक

46.2

98.8

26.7

63.3

लैटिन अमेरिका

11.7

28.1

9.0

16.8

नॉर्थ अमेरिका

43.2

94.2

37.1

83.8

वेस्टर्न यूरोप

37.9

76.0

25.0

49.5

सेंट्रल एंड ईस्टर्न यूरोप

32.8

46.7

19.5

32.8

मिडल ईस्ट एंड अफ्रीका

7.8

20.2

6.2

11.2

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR