रेहड़ी-पट्टी पर चाय की दुकान लगाने वालों की दूर होगी मुसीबत, ये कंपनी ला रही है बड़ी स्कीम

आनंदा डेयरी के फाउंडर और चेयरमैन राधे श्याम दीक्षित आम लोगों और खासकर चायवालों के लिए बड़ी स्कीम लेकर आ रहे हैं।  उनकी कंपनी ने चाय वालों के रिफॉर्म का बीड़ा उठाया है। दीक्षित ने कहा कि अतिक्रमण के नाम पर चायवाले को हटा दिया जाता है, जबकि चाय वाला सबसे सस्ती कीमत पर एक हेल्थी पेय उपलब्ध कराता है। ऐसे में अब उनकी कंपनी अनंदा डेयरी इन चाय वालों को एक ई-रिक्शा जैसी गाड़ी मुहैया कराएगी। इससे अतिक्रमण के दौरान दुकान हटाने के नाम पर होने वाले नुकसान से बचा जा सकेगा। साथ ही अनंदा डेयरी चाय वालों को कुछ सरकारी बैंक से फाइनेंस कराएगी।

आनंद डेयरी अपनी इसी स्कीम के तहत चाय वाले के लिए स्पेशलाइज्ड मिल्क T20 उपलब्ध कराएगी, जो कि पूरी तरह हाईजीनिक होगा। इस एक लीटर दूध में 20 कप चाय बनेगी। नोएडा एनसीआर में हर चौथे चाय वाले के पास ये दूध जा रहा होगा। उन्होंने बताया कि दूध को होमोजेनाइज किया गया है। साथ ही रेट भी किफायती होगा। यह एफएसआई लाइसेंस प्राप्त होगा। हम दूध वालों को ट्रेनिंग दिलाएंगे। अगले साल उसके वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करके देंगे।

राधे श्याम दीक्षित

राधे श्याम दीक्षित

कंपनी देगी दूधवालों को अवार्ड

आनंद की दूसरी स्कीम चाय वालों को सम्मानित करने को लेकर है। कंपनी पूरे हिंदुस्तान में ऐसे लोगों को ढूंढेगी, जो 1000 लीटर दूध की चाय बनाते हैं। फिर इन चाय वालों से छोटे चाय वालों को प्रशिक्षित कराया जाएगा। साथ ही 1000, 500 और 200 लीटर की चाय बनाने वालों को आनंदा अवार्ड दिया जाएगा।

एक रुपए में मिलेगा पनीर

अनंदा डेयरी के चेयरमैन ने कहा कि देश के हर एक व्यक्ति को सस्ती कीमत में एक ग्राम पनीर देंगे। इससे गरीबों में प्रोटीन की कमी को दूर किया जा सकेगा। उनके मुताबिक उनकी कंपनी का लक्ष्य केवल मुनाफा कमाना नहीं है। वो देश के गरीब तबकों के लिए भी काम करना चाहते हैं।

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR