अक्टूबर में जियो ने जोड़े 1.05 करोड़ नए ग्राहक, एयरटेल, वोडाफोन-आइडिया को 90 लाख का नुकसान; देश में 119.20 करोड़ टेलीकॉम सब्सक्राइबर

  • ट्राई ने बुधवार को अक्टूबर 2018 के आंकड़े जारी किए, जियो को लगातार तीसरे महीने फायदा

  • सितंबर 2018 में जियो के 25.22 करोड़ ग्राहक थे, अक्टूबर में इनकी संख्या बढ़कर 26.27 करोड़ पहुंची

  • एयरटेल ने 18.64 लाख जबकि वोडाफोन-आइडिया ने 73.61 लाख ग्राहकों का नुकसान

टेलीकॉम रेगुलेटरी ट्राई ने बुधवार को अक्टूबर 2018 के आंकड़े जारी कर दिए, जिसके मुताबिक रिलायंस जियो को लगातार तीसरे महीने जबरदस्त फायदा हुआ है। ट्राई के मुताबिक, अक्टूबर में रिलायंस जियो ही एकमात्र ऐसी टेलीकॉम कंपनी रही जिससे 1.05 करोड़ नए ग्राहक जुड़े। जबकि देश की दो बड़ी कंपनियां- भारती एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया को करीब 90 लाख ग्राहकों को नुकसान हुआ है। अक्टूबर में एयरटेल से जहां 18.64 लाख ग्राहक छूटे वहीं, वोडाफोन-आइडिया को सबसे ज्यादा 73.61 लाख ग्राहकों का नुकसान हुआ है।

अब किसके कितने ग्राहक

कंपनी

सितंबर

अक्टूबर

भारती एयरटेल

34.35 करोड़

34.16 करोड़

वोडाफोन-आइडिया

43.49 करोड़

42.76 करोड़

रिलायंस जियो

25.22 करोड़

26.27 करोड़

टेलीकॉम सब्सक्राइबर की संख्या 119 करोड़ से ज्यादा पहुंची

इसके साथ ही, अक्टूबर में भारत में टेलीकॉम सब्सक्राइबर की संख्या 119 करोड़ से ज्यादा पहुंच गई है। सितंबर 2018 में भारत में जहां 119.14 करोड़ सब्सक्राइबर थे, वहीं अक्टूबर 2018 में इनकी संख्या बढ़कर 119.20 करोड़ पहुंच गई। इनमें 66.71 करोड़ सब्सक्राइबर शहरों में और 52.49 करोड़ सब्सक्राइबर गांवों में हैं। जबकि सितंबर में शहरी सब्सक्राइबर की संख्या 66.66 करोड़ और ग्रामीण सब्सक्राइबर की संख्या 52.47 करोड़ थी।

प्राइवेट कंपनियां 90% से ज्यादा मार्केट पर कब्जा
ट्राई की रिपोर्ट के मुताबिक, अक्टूबर 2018 तक देश की प्राइवेट टेलीकॉम कंपनियां का मार्केट शेयर 90.01% रहा जबकि सरकारी कंपनियों का मार्केट शेयर सिर्फ 9.99% रहा। इसमें सबसे ज्यादा 36.55% मार्केट शेयर वोडाफोन-आइडिया का रहा और उसके बाद भारती एयरटेल का नंबर है जिसका मार्केट शेयर 29.20% रहा। वहीं, अक्टूबर तक रिलायंस जियो का मार्केट शेयर 22.46% रहा। जबकि, बीएसएनएल का मार्केट शेयर 9.70% और एमटीएनएल का मार्केट शेयर 0.30% रहा।

वायरलैस ब्रॉडबैंड सर्विस में भी रिलायंस जियो आगे

  • 31 अक्टूबर 2018 तक वायरलैस ब्रॉडबैंड सर्विस में भी रिलायंस जियो ही आगे रहा। इस समय तक जियो की ब्रॉडबैंड सर्विस का इस्तेमाल करने वालों की संख्या 26.27 करोड़ रही। वहीं, वोडाफोन-आइडिया के 10.13 करोड़ और भारती एयरटेल 9.91 करोड़ यूजर्स रहे। जबकि बीएसएनएल के सिर्फ 1.11 करोड़ ग्राहक ही रहे।

  • वहीं, वायर्ड ब्रॉडबैंड सर्विस के मामले में सबसे ज्यादा 91.50 लाख ग्राहक बीएसएनएल के रहे। इसके बाद भारती एयरटेल (22.20 लाख ग्राहक), एट्रीया कन्वर्जेंस टेक्नोलॉजी (13.70 लाख) और एमटीएनएल के 7.90 लाख ग्राहक रहे। 5वें नंबर हैथवे केबल और डेटाकॉम रही, जिसके 7.50 लाख ग्राहक रहे।

मार्केट शेयर (वायर्ड+वायरलैस ब्रॉडबैंड सर्विस)

रिलायंस जियो

52.96%

भारती एयरटेल

20.44%

वोडाफोन-आइडिया

20.43%

बीएसएनएल

4.09%

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR