Solar lamp बिजनेस से कमा सकते हैं सालाना 20 लाख रु, सीखें कैसे कर सकते हैं शुरू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि‍ देश में सोलर एनर्जी का इस्‍तेमाल बढ़े और इसके लिए उनकी सरकार कई तरह की स्‍कीम्‍स शुरू की है। इसका असर भी दिखने लगा है और देश में सोलर प्रोडक्‍ट्स की मार्केट तेजी से बढ़ती जा रही है। लोग सोलर पैनल लगाने के साथ-साथ सोलर लैम्‍प, सोलर गीजर, सोलर हीटर जैसे प्रोडक्‍ट्स के प्रति आकर्षित हो रहे हैं। वहीं, मोदी सरकार सोलर प्रोडक्‍ट्स का बिजनेस करने वाले लोगों को भी प्रमोट कर रही है। ऐसे में, आप यदि कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आप सोलर लैम्‍प बनाने की कंपनी शुरू कर सकते हैं। सरकार की वजह से बैंक भी ऐसे बिजनेस को लोन देने में काफी इंटरेस्‍ट दिखा रहे हैं, इसलिए आपके लिए यह एक अच्‍छा मौका हो सकता है।

आज हम आपको इस बिजनेस के बारे में विस्‍तार से बताएंगे कि सोलर लैम्‍प बनाने का प्‍लांट कैसे और कितने इन्‍वेस्‍टमेंट में लग सकता है। साथ ही, यह भी बताएंगे कि इस बिजनेस से आपको कितना प्रॉफिट होगा।

कितना करना होगा इन्‍वेस्‍टमेंट

माइक्रो, स्‍मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (एमएसएमई) डेवलपमेंट इंस्टिट्यूट की प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक, आपको फिक्‍सड कैपिटल के तौर पर मशीनरी एवं इक्विपमेंट पर 3.50 लाख रुपए में खर्च करने होंगे। इसमें आपको ड्रिल मशीन, ग्राइंडर, हाई वोल्‍टेज ब्रेक डाउन टेस्‍टर, ऑटो ट्रांसफार्मर, इंसुलेशन टेस्‍टर, टेस्टिंग सेटअप, डिजिटल मल्‍टीमीटर, वोल्टेज स्‍टबलाइजर, कंप्‍यूटर, प्रिंटर आदि शामिल है। इनके इंस्‍टॉलेशन पर लगभग 1 लाख 5 हजार रुपए खर्च होंगे। यानी कि 5 लाख 30 हजार रुपए का इन्‍वेस्‍टमेंट फिक्‍सड कैपिटल पर करना होगा। वहीं वर्किंग कैपिटल के तौर पर 1 लाख 50 हजार रुपए की जरूरत होगी।

रॉ-मैटिरियल पर कितना होगा खर्च

इसके अलावा पहले 1000 सोलर लैम्‍प बनाने के लिए आपको लगभग 17 लाख रुपए के रॉ-मैटिरियल की जरूरत पड़ेगी। इसमें सोलर पीवी मॉड्यूल, बैटरी, एलईडी, स्विच, इनपुट कनेक्‍टर, मॉडर्न प्‍लास्टिक कैबिनेट, फ्यूज, केबल, पीसीबी, सेमी कंडक्‍टर्स, रेसिसटर्स, कैपसिटर्स, ट्रांसिसटर्स, इलेक्‍ट्रो मैकेनिकल कंपोनेंट आदि शामिल है। प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक, एक सोलर लैंप्‍ पर लगभग 1700 रुपए का रॉ-मैटिरियल यूज होगा।

कितनी होगी इनकम 
एमएसएमई डीआई की प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक, यदि आप साल भर में 12000 सोलर लैम्‍प बनाते हैं तो आपका सारा खर्च मिलाकर 2 करोड़ 43 लाख 66 हजार रुपए खर्च होंगे। जिसमें डेप्रिसिएशन और इंटरेस्‍ट भी शामिल हैं। जबकि यदि आप एक लैंप 2200 रुपए के रेट से बेचते हैं तो आपका सालाना टर्नओवर 2 करोड़ 64 लाख रुपए होगा और आपकी कुल बचत 20 लाख 33 हजार रुपए होगी।

सरकार से लें सपोर्ट

आप यह फैक्‍ट्री लगाने के लिए केंद्र सरकार का सपोर्ट भी ले सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 करोड़ रुपए तक के लोन बिना किसी सिक्‍योरिटी के दिलवाया जाता है। आप इसके लिए जिला उद्योग केंद्र से संपर्क कर सकते हैं। या लोन के लिए अप्‍लाई करते वक्‍त आप बैंक से कह सकते हैं कि आपको केंद्र सरकार की क्रेडिट गारंटी स्‍कीम के तहत लोन दें। आप बैंकों द्वारा एमएसएमई कैटेगिरी को दिए जाने वाले लोन के लिए अप्‍लाई कर सकते हैं। इस स्‍कीम के तहत आपको 80 फीसदी तक लोन भी मिल सकता है।

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR