इस बिजनेस से कमा सकते हैं लाखों, जानें 4 स्टेप में पूरा प्रोसेस

यह बि‍जनेस कम लागत और बहुत कम रि‍स्क में शुरू होता है। इसमें कागजी कार्रवाई भी बहुत कम होती है और बाकी कानूनी झंझट भी न के बराबर होते हैं। आप छोटे पैमाने पर भी इसे शुरू कर सकते हैं और इतना कमा सकते हैं कि‍ आपकी सभी जरूरतें पूरी हो जाएं।

बड़े महानगरों के साथ- साथ अब छोटे शहरों में भी सि‍क्योरि‍टी पर्सनल्‍स (Security guard) की मांग बढ़ गई है। फैक्‍ट्रियों, सोसाइटी, मॉल, मल्‍टीप्‍लेक्‍स और बड़े आयोजनों में व्‍यवस्‍था को बनाए रखने के लि‍ए सि‍क्‍योरि‍टी कर्मचारि‍यों की जरूरत पड़ती है। ऐसे में सि‍क्‍योरि‍टी कंपनी खोलना इनकम का एक अच्‍छा जरि‍या बन सकता है।

सि‍क्‍योरि‍टी एजेंसी (Security agency) खोलने का प्रोसेस बहुत लंबा नहीं है। हां, थोड़ी भागदौड़ और थोड़े खर्च के लि‍ए आपको तैयार रहना होगा। हम आपको स्टेप बाई स्टेप बता रहे हैं कि‍ कि‍स तरह से एजेंसी कैसे खोलें, उसके लि‍ए क्‍या तैयारी जरूरी है और कहां से मि‍लेगा बि‍जनेस।

स्‍टेप 1 – अकेले बना सकते हैं फर्म  

सबसे पहले आपको एक कंपनी बनानी होगी। आप चाहें तो प्राइवेट लि‍मि‍टेड कंपनी खोलें या फि‍र पार्टनरशिप कंपनी या प्रॉपराइटरशि‍प फर्म। इसमें भी पार्टनरशि‍प और प्रॉपराइटरशिप फर्म खोलना ज्‍यादा आसान होता है और हर साल जो कागजी कार्रवाई होती है वो भी प्राइवेट कंपनी के मुकाबले बहुत कम होती है। आप अपने कि‍सी भी दोस्त या अपनी पत्‍नी के साथ पार्टनरशिप कंपनी खोल सकते हैं। वैसे सबसे कि‍फायती रहेगी प्रॉपराइटरशि‍प फर्म। इस काम में आप कि‍सी सीए की मदद ले सकते हैं। प्रॉपराइटरशि‍प फर्म में हर साल फाइल होने वाली कागजी कार्रवाई बहुत कम होती है।

स्‍टेप 2 – एजेंसी का रजि‍स्‍ट्रेशन

सि‍क्‍योरि‍टी एजेंसी सर्वि‍स देती है इसलि‍ए आपकी कंपनी सर्वि‍स टैक्‍स के दायरे में आएगी और आपको उसका रजि‍स्‍ट्रेशन कराने की जरूरत है। अगर आप 10 या उससे ज्‍यादा लोगों को नौकरी पर रख रहे हैं तो आपको ईएसआई से रजि‍स्‍ट्रेशन कराना होगा और 20 से ज्‍यादा हैं तो पीएफ के लि‍ए भी रजि‍स्‍ट्रेशन कराना होगा। इसके अलावा आपको लेबर कोर्ट में भी रजिस्‍ट्रेशन कराना होगा।

स्‍टेप 3 – कहां से मिलता है लाइसेंस

इसके बाद आपको एजेंसी का लाइसेंस लेना होगा, जो राज्‍य सरकार का गृह वि‍भाग देता है, पुलि‍स से मंजूरी मि‍लने के बाद। प्राइवेट सि‍क्‍योरिटी एजेंसी रेगुलेशन एक्‍ट 2005 के तहत इनका लाइसेंस मि‍लता है। लाइसेंस के लि‍ए 5000 से 25 हजार तक की फीस लगती है। अगर आप एक जि‍ले में अपनी सेवाएं देना चाहते हैं तो 5000, पांच जि‍लों तक सेवा देना चाहते हैं तो 10,000 और अगर पूरो राज्‍य में ऑपरेट करना चाहते हैं तो 25 हजार रुपये फीस है। आपको सबसे पहला काम यही करना चाहिए कि जिस भी राज्‍य में आप एजेंसी खोलना चाहते हैं वहां के पुलिस विभाग से लाइसेंस की पूरी जानकारी हासिल करें।

स्टेप 4 – भर्ती, ट्रेनिंग, वर्दी और बिजनेस शुरू

आपको सुरक्षाकर्मी की भर्ती, उनकी ट्रेनिंग और वर्दी वगैरा भी तैयार करनी होगी। वर्दी की तस्‍वीर आपको आवेदन के साथ लगानी होगी। मोटे तौर पर सभी राज्‍यों में नि‍यम एक समान हैं। पुरुष सुरक्षाकर्मी की हाइट कम से कम 160 सेंटीमीटर और महिला सुरक्षाकर्मी की हाइट कम से कम 150 सेंटीमीटर हो। उनकी नजर ठीक हो। पुरुष सुरक्षाकर्मी का सीना फुलाने के बाद 80 सेंटीमीटर हो। वह छह मिनट में एक किलोमीटर दौड़ सकता हो। आपको किसी मान्‍यताप्राप्‍त ट्रेनिंग इंस्‍टीट्यूट से उनकी ट्रेनिंग का इंतजाम भी करना होगा। ट्रेनिंग करीब एक माह की होती है। कागजी कार्रवाई के बाद आपको ऐसे लोगों से संपर्क करना होगा, जिनको अपनी कंपनी, सोसाइटी, मॉल, अस्पताल वगैरा में सिक्‍योरिटी की जरूरत होती है। शुरू में आप किसी बड़ी एजेंसी के साथ मिलकर भी काम कर सकते हैं।

NEWS SOURCE-- DAINIK BHASKAR